WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

RBI 500 Note Rule ₹500 के नोटों को लेकर आरबीआई का बड़ा ऐलान

₹500 के नोट को लेकर एक बड़ी खबर निकल कर आ रही है अगर आप लोग के पास भी ₹500 के नोट है तो सोशल मीडिया पर एक खबर आई है जिसमें बताया जा रहा है कि पुराने नोट ₹500 के बंद किया जा रहे हैं आरबीआई बैंक आफ इंडिया के द्वारा जल्द से जल्द इसके ऊपर अपडेट लेगी और इसे बंद किया जा सकता है पिछले दिन सोशल मीडिया पर एक खबर और तेजी से वायरल हुआ जिसमें बताया गया कि करीब ₹500 के नोट 88000 करोड रुपए प्रिंटिंग प्रेस के बाद गायब हो गया है जिसके बाद से न्यूज़ वाले ने एवं मीडिया रिपोर्ट में यह खबर निकले इसके बाद से आरबीआई के द्वारा क्या इस पर सफाई दिया है पूरी जानकारी आपको बताएंगे तो ध्यान से पूरा जरूर पढ़ें

Table of Contents

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

88 हजार करोड़ रुपये के नोट गायब होने की थी खबर

एक सामाजिक कार्यकर्ता मनोरंजन रॉय को आरटीआई से पता चला था कि तमाम प्रिंटिंग प्रेस ने 500 रुपये के करीब 8810.65 मिलियन नोट छापे थे, लेकिन रिजर्व बैंक तक सिर्फ 7260 मिलियन नोट ही पहुंचे.

लगभग 1550 मलियिन 500 रुपये के नोट रिजर्व बैंक तक नहीं पहुंचे. वहीं अप्रैल 2015- मार्च 2016 के बीच करंसी नोट प्रेस, नासिक की तरफ से 210 मिलियन 500 रुपये के नोट छापे गए, जो रिजर्व बैंक के पास नहीं पहुंचे.

इसके बाद सवाल उठने लगे थे कि क्या ये सारे लगभग 1760 मिलियन यानी करीब 176 करोड़ 500 रुपये के नोट रास्ते से ही गायब हो गए? अगर इन नोटों की वैल्यू निकाली जाए तो वह लगभग 88 हजार करोड़ रुपये निकलती है.

जब से बैंक नोट गायब होने की खबर सामने आई थी, तब से लगातार सरकार पर सवाल उठ रहे थे. विपक्ष के तमाम नेताओं ने भी मोदी सरकार पर सवाल उठाने शुरू कर दिए थे.

आरटीआई से मिली जानकारी सोशल मीडिया पर भी तेजी से फैलने लगी और सवाल उठने शुरू हो गए. ऐसे में खुद भारतीय रिजर्व बैंक को सामने आना पड़ा और आरटीआई से मिली जानकारी पर अपनी सफाई देनी पड़ी.

क्या कहा है रिजर्व बैंक ने?

बैंक ने अपनी सफाई में कहा है- ‘भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) को कुछ मीडिया में प्रसारित होने वाली खबरों के बारे में पता चला है, जिसमें प्रिंटिंग प्रेस की तरफ से छापे गए बैंकनोटों के गायब होने का आरोप लगाया गया है.

आरबीआई का कहना है कि ये रिपोर्ट सही नहीं हैं। ये रिपोर्ट सूचना का अधिकार अधिनियम, 2005 के तहत प्रिंटिंग प्रेसों से ली गई जानकारी को गलत तरीके से दिखा रही हैं.

यहां ध्यान देना जरूरी है कि प्रिंटिंग प्रेसों से आरबीआई को भेजे जाने वाले सभी बैंक नोटों का लेखा-जोखा ठीक से रखा जाता है.

यह भी सूचित किया जाता है कि प्रेसों में छापे गए और भारतीय रिजर्व बैंक को भेजे गए बैंक नोटों के मिलान के लिए मजबूत व्यवस्थाएं मौजूद हैं.

Oppo A78 Pro : Oppo का धांसू कैमरा वाला 5G फोन, मिलेगा 8GB

Gas Cylinder Petrol Diesel Price : गैस सिलेंडर और पेट्रोल डीजल के दामों में आज हुआ बड़ा बदलाव।।

Redmi A3 Series : रेडमी ने जारी किया जबरदस्त कैमरे और डिजाइन के साथ बेतरीन फोन।।

Leave a Comment

यहाँ से पूरी खबर पढ़ें